FilmCity World
सिनेमा की सोच और उसका सच

Zee TV के कलाकारों ने कुछ ऐसे दीं दिवाली की शुभकामनाएं

0 952

ज़ी टीवी के शो ‘आपके आ जाने से‘ मे  साहिल की भूमिका निभा रहे करण जोतवानी कहते हैं, ‘‘दिवाली रोशनी और खुशियो का त्यौहार है। मुझे हमेशा अपने परिवार के साथ दिवाली मनाने का इंतजार रहता है। मुझे याद है बचपन में मुझे पटाखे फोड़ना बहुत पसंद था लेकिन अब मैं इनसे बचता हूं। अंत में मैं सभी फैंस को दीपावली की शुभकामनाएं देना चाहूंगा।

ज़ी टीवी के गुड्डन तुमसे ना हो पाएगा में अक्षत जिंदल की भूमिका निभा रहे निशांत सिंह मलकानी कहते हैं, ‘‘दिवाली एक खूबसूरत त्यौहार है और मैं इसे अपने परिवार और दोस्तों के साथ मनाने का इंतजार कर रहा हूं। हर साल हमारे घर पूजा होती है, जिसके बाद सभी लोग मिलकर पार्टी करते हैं और लज़ीज खाने का मजा लेते हैं। यह अवसर बहुत खास होता है क्योंकि इसमे एक फैमिली गेट-टुगेदर होता है। मैं सुप्रीम कोर्ट के फैसले का समर्थन करता हूं जिसमें पटाखे फोड़ने के लिए समय सीमा निर्धारित की गई है। यह वाकई बडा़ फैसला है क्योंकि इससे ध्वनि और वायु प्रदूषण को काब मे रखने में मदद मिलेगी। अंत में मैं अपने सभी फैंस को दीपावली की शुभकामनाएं देना चाहूंगा।‘‘

इश्क सुभान अल्लाह की ज़ारा यानी ईशा सिंह कहती हैं, ‘‘दिवाली मेरा पसंदीदा त्यौहार है और मैं हमेशा इसे रिश्तेदारों के साथ मनाती हूं। हर साल मैं अपने दोस्तो और परिवार के साथ यह त्यौहार मनाने भोपाल जाती हूं। हम लोग पारंपरिक परिधान पहनकर एक छोटी-सी पूजा करते हैं और इसके बाद पटाखे फोड़ते हैं। मैं सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से पूरी तरह से सहमत हूं कि पटाखे फोड़ने की समय सीमा होनी चाहिए। इससे त्यौहार का उल्लास भी बना रहेगा और लोग इस खूबसूरत त्यौहार का मजा भी ले सकेंगे। सभी को रोशनी के इस पर्व को धूमधाम से मनाना चाहिए। अंत में मैं अपने सभी प्रशंसकों को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं देना चाहूंगी।

इश्क सुभान अल्लाह में ज़ीनत का रोल निभा रहीं मोनिका खन्ना कहती हैं, ‘‘दिवाली रंग-बिरंगी रोशनी का त्यौहार है, जो अपने साथ बहुत सारी खुशी और समृद्धि लाती है।मुझे इस मौके पर रंगोली बनाना और स्वादिष्ट मिठाइयों का आनंद लेना बहुत पसंद है।इस अवसर पर मुझे अपने परिवार और दोस्तों के साथ मिलकर सारा दिन एंजॉय करने का भी इंतजार रहता है। मैं पटाखे फोड़ने का समर्थन नहीं करती लेकिन मुझे लगता है कि लोगों को मोमबत्तियां आरै दीए जलाने चाहिए और अपने चाहने वालों के साथ कुछ अच्छा
वक्त गुजारना चाहिए। हमें अपने पर्यावरण की भी रक्षा करनी चाहिए और ऐसी चीजें नहीं करना चाहिए जिससे इसे नुकसान पहुंचता है।‘‘

ज़ी टीवी के तुझसे  है राब्ता में मल्हार राणे का रोल निभा रहे सेहबान अज़ीम कहते हैं,‘‘दिवाली को लेकर मेरे मन में सबसे पहले जो ख्याल आता है वो रोशनी और सजावट के बारे में होता है। हर साल मैं अपने दोस्तों के साथ यह त्यौहार मनाने मे व्यस्त रहता हूं।लेकिन इस बार मैं अपने परिवार के साथ कुछ अच्छा वक्त गुजारूंगा। मुझे बहुत अच्छे से याद है कि बचपन के दिनों में मुझे दोस्तों के साथ रहने के लिए ही दिवाली का इंतजाररहता था, जिनके साथ मिलकर मैं पटाखे फोड़ता था और कुछ स्वादिष्ट व्यंजनो का आनंद लेता था। इस त्यौहार के धार्मिक महत्व से अलग मुझे लगता है कि दिवाली हम सभी को साथ लाती है। यह दोस्तो के साथ घुलने-मिलने और जिंदगी की छोटी-छोटी खुशियांमनाने का नाम है। साथ ही यह एक दूसरे और खुद की जिंदगी से अंधेरा दूर करने काअवसर भी होता है। मुझे खुशी है कि इस बार सरकार ने प्रदूषण कम करने के लिए कुछ कदम उठाए हैं और यह एक बढ़िया कदम है। इस बार मैं मिट्टी के दीए बनाऊंगा ताकि मैं इस त्यौहार की खूबसूरती बनाए रखने और खुशियां फैलाने में अपना योगदान दे सकूं।मेरी ओर से सभी को सुख और समृद्धि से भरी दिवाली की शुभकामनाएं।‘‘

ज़ी टीवी के इश्क सुभान अल्लाह में रुखसार की भूमिका निभा रहीं शिप्सी राणा कहती हैं,  मुंबई में यह मेरी पहली दिवाली होगी और मैंने पहले से ही अपने घर को रोशनी, मोमबत्तियों और दीयों से सजाना शुरू कर दिया है। दिवाली पर मेरा घर रोशनी अंत में सभी को दीपावली की शुभकामनाएं
देना चाहूंगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.