FilmCity World
सिनेमा की सोच और उसका सच

‘Chopsticks’ रिव्यू : दिलचस्प प्लॉट के साथ गुदगुदा जाएगी चॉप्स्टिक्स

Chopsticks नेटफ्लिक्स पर रिलीज़ हो गई है..हमारे संवाददाता शौनक जैन बता रहें हैं कि आखिर कैसी है ये फिल्म।

0 811

नेटफ्लिक्स की ये एक तरह से पहली भारतीय ओरिजिनल फ़िल्म हैं। हालांकि नेटफ्लिक्स ने पहले भी भारतीय ओरिजिनल्स रिलीज़ किये है, वो उन्होंने अन्य जगहों और लोगों से खरीदे थे, ये पहली फ़िल्म है जो पूरी तरह से नेटफ्लिक्स ने ही बनाई है। फ़िल्म की कहानी एक भोली और नादान लड़की, निरमा सहस्त्रबुद्धे की है जिनका नाम निरमा है क्योंकि जिस दिन वो पैदा हुई उस दिन उनके पिताजी को निरमा वाशिंग पाउडर की एजेंसी मिली, एक कॉन मैन कम शेफ, जिससे हम सिर्फ “आर्टिस्ट” के नाम से जानते है और एक गैंगस्टर गुंडा जो लोगो से पैसे जबरन वसूली करता है और उसके ज़िन्दगी के 2 प्यार है उसका बकरा “बाहुबली” और किशोर कुमार के गाने ।  निरमा का किरीदार निभाया है मिथिला पालकर ने, अभय देओल हमारे आर्टिस्ट है और विजय राज़ गुंडे।


फ़िल्म की शुरुआत हम धारावी में देखते है जो एक काफी कॉमेडी सीन होता है। मिथिला का अभिनय और परफॉरमेंस काफी शानदार और नैचुरल रही है हमेशा की तरह.. उन्होंने एक भोली लड़की जो लोगो पर आसानी से भरोसा करती है, उसका रोल बखूबी निभाया है। अभय भी उनके रोल में अच्छे से ढल जाते है और एक बढिया और ईमानदार परफॉरमेंस देते है। विडय राज़ को तो अब ऐसे गुंडों वाले रोल करने की आदत सी हो गयी होगी मगर फिर भी इसमे वो एक अलग नयापन लाते है।
कहानी फ़िल्म की काफी अच्छी है। जो उसका सोल है वो सही जगह है। कुछ जो जोक्स और सीन्स है वो बेहतरीन हैं जो हँसाने वाले और मज़ेदार भी है। इतने अच्छे और मंझे हुए कलाकार होने के बावजूद फ़िल्म थोड़ी फीकी पड़ जाती है क्योंकि फ़िल्म का स्क्रीनप्ले और निर्देशन कुछ कुछ जगह पर ढीला सा लगता है लेकिन उसके बावजूद पूरी फिल्म यूनीक और देखने लायक है। मिथिला एक चीनी भाषा की ट्रांसलेटर होती है और फ़िल्म के दौरान वो जिस तरह से बढ़ती है वो खूबसूरत है और अभय का उन्हें सपोर्ट जो मिलता है वो भी देखने में अच्छा लगता है। बैकग्राउंड म्यूजिक भी सही है तरीके से इस्तेमाल किया गया है।
फ़िल्म नेटफ्लिक्स की पहली ओरिजिनल है भारत में तो उसके हिसाब से जो हमारी आशा है उससे कुछ कम रहते हुए भी असर छोड़ जाती है.. ऐसा लगता है कि इतने अच्छे कलाकारों का पूरा इस्तेमाल नही हुआ हैं हर जगह। फिर भी फ़िल्म कमाल तो नहीं लेकिन अच्छी बनी है। एक बार देख सकते हैं आप और मज़ा भी आयेगा ये हटके फ़िल्म और इसकी पर्फोर्मेंसस को देख कर।चॉप्स्टिक्स को हमारी तरफ से  3/5 स्टार्स ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.