FilmCity World
सिनेमा की सोच और उसका सच

ऋतिक रोशन ने भारतभर के जरूरतमंदों के लिए बढ़ाया मदद का हाथ, 1 लाख से ज़्यादा बुजुर्गों और कामगारों को उपलब्ध कराएंगे पौष्टिक पका हुआ भोजन

0 128

 

हमें बचाने के लिए निस्वार्थ रूप से काम कर रहे बीएमसी कार्यकर्ताओं और कार्यवाहकों की सुरक्षा के लिए N95 और FFP3 मास्क की व्यवस्था करने के बाद, ऋतिक रोशन अब उन लोगों के लिए 1.2 लाख पौष्टिक पके हुए भोजन की सुविधा करने में मदद कर रहे हैं जो इस समय खुद के लिए भोजन का आयोजन करने में असमर्थ है।

सुपर 30 के अभिनेता ने अक्षय पात्र नामक एनजीओ को सशक्त बनाया है जो वृद्धाश्रम, दिहाड़ी मजदूर और भारत भर के निम्न आय वर्ग के लोगों को इन कठिन समय में पौष्टिक पका हुआ भोजन सुनिश्चित करने के लिए दिन रात मेहनत कर रहे है। इस मुश्किल समय में भारत को पौष्टिक पका हुआ खाना मिल रहा है। भोजन लोगों के लिए जीवित रहने की एक बुनियादी आवश्यकता है और विशेष रूप से ऐसे समय के दौरान एक महत्वपूर्ण क्षेत्र है जहां मदद की आवश्यकता है।

एनजीओ अक्षय पात्र ने अपने ट्विटर पर ऋतिक रोशन की तत्काल मदद प्राप्त करने के बारे में ट्वीट साझा किया है।

वे लिखते है,”हमें साझा करने में खुशी हो रही है, हमारे फाउंडेशन को अब सुपरस्टार @iHrithik द्वारा सशक्त बनाया गया है। मिलकर अब हम वृद्धाश्रम, दिहाड़ी मजदूर और भारत भर में निम्न आय वर्ग के लोगों को 1.2 लाख पौष्टिक पके हुए भोजन की सुविधा प्रदान करेंगे, जब तक काम की दिनचर्या सामान्य नहीं हो जाती है।”

“हम सुपरस्टार ऋतिक रोशन द्वारा राहत प्रदान करने में उनकी तत्काल मदद और ज़रूरत के इस समय में सभी भारतीय के स्वास्थ्य और कल्याण में सहायता करने के लिए उनके आभारी हैं। आपके इस भाव के लिए हम तह दिल से धन्यवाद करते हैं। @iHrithik ”

बदले में, अभिनेता ने अपने ट्विटर हैंडल पर भावनात्मक और दिल से जवाब देते हुए लिखा,”मैं आपको यह सुनिश्चित करने की शक्ति देता हूं कि हमारे देश में कोई भी भूखा न सोए। आप सभी असली सुपरहीरो हैं।
#IndiaFightsCorona #CovidRelief”

जब से इस महामारी ने हमारे देश और दुनिया पर प्रहार किया है, ऋतिक कोरोनोवायरस के खिलाफ इस लड़ाई में लगातार विभिन्न तरीकों से हमारे देश के लोगों की मदद करने का प्रयास कर रहे हैं। एक जिम्मेदार और चिंतित नागरिक के रूप में, ऋतिक सिर्फ इस बात के प्रति जागरूक नहीं है कि क्या हो रहा है और आवश्यकता की जगह पर मदद का हाथ बढ़ा रहे है, बल्कि वह अपने लाखों प्रशंसकों को शिक्षित करने के लिए अपने विशाल इन्फ्लुएंस का उपयोग विभिन्न तरीकों से कर रहे है ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि सही संदेश अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचे।

एनजीओ अक्षय पात्र कमजोर समुदायों, जैसे प्रवासी मजदूरों और बेघर लोगों को खाना प्रदान करके सरकार के प्रयासों का समर्थन कर रहा है। यह फाउंडेशन अपनी रसोई के नेटवर्क के माध्यम से, भारत सरकार, राज्य सरकारों और अन्य नागरिक प्रशासनों के साथ मिलकर दो तरह से काम कर रहा है जिसमें उनके केंद्रीकृत रसोई के माध्यम से पके हुए भोजन का वितरण और राशन किट का वितरण शामिल है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.