FilmCity World
सिनेमा की सोच और उसका सच

“सुपर 30” के लिए ऋतिक रोशन को दादा साहेब फाल्के इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल अवार्ड्स में ‘सर्वश्रेष्ठ अभिनेता’ का पुरस्कार

0 53

 

हाल ही में मुंबई में दादासाहेब फाल्के इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल अवार्ड्स 2020 का आयोजन किया गया था जहाँ ऋतिक रोशन को अपनी हालिया परफॉर्मेंस के लिए शाम का सबसे बड़ा सम्मान हासिल हुआ है।

अभिनेता को ‘सुपर 30’ में उनके शानदार प्रदर्शन के लिए प्रतिष्ठित पुरस्कारों में “सर्वश्रेष्ठ अभिनेता” के ख़िताब से सम्मानित किया गया है जिसमें अभिनेता ने बिहार के गणितज्ञ आनंद कुमार की भूमिका निभाई है।

स्क्रीन पर विजय की कहानी पेश करते हुए, ऋतिक रोशन ने अपने किरदार के साथ दर्शकों का दिल जीत लिया है। ऋतिक को न केवल उनके प्रदर्शन के लिए सरहाया गया है जहां उन्होंने आनंद कुमार के किरदार की सूक्ष्मतम बारीकियों को आत्मसात किया है, बल्कि वास्तविक जीवन के शिक्षक ने खुद अभिनेता की सराहना करते हुए कहा कि उन्हें विश्वास नहीं हो रहा था कि वह स्क्रीन पर खुद को देख रहे है या ऋतिक को देख रहे है!

उनकी फिल्म “सुपर 30” ने डीएसपीआईएफ अवार्ड्स में भी सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार जीता है। जब ऋतिक के नाम की घोषणा की गई, तो दर्शकों की प्रतिक्रिया से यह साफ़ व्यतीत हो गया कि उनकी परफॉर्मेंस को कितना पसंद किया गया है और यह जीत ऋतिक के लिए उस रात की एक अच्छी जीत थी।

अपने करियर में चुनौतीपूर्ण और प्रभावशाली भूमिकाओं की विरासत के साथ, ऋतिक ने दो बैक टू बैक रिलीज के साथ वर्ष 2019 में अपने नाम कर लिया है। ऋतिक रोशन की पिछली फिल्म वॉर उनकी अब तक का सबसे अधिक कमाई करने वाली फिल्म बन गयी है, जिसने 300 करोड़ क्लब में प्रवेश करते हुए सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए है।

अभिनेता ने अपने किरदार के साथ स्क्रीन पर एक बहुत ही मजबूत कहानी पेश की है जहाँ “एक राजा का बेटा राजा नहीं बनेगा, राजा वो ही बनेगा जो हक़दार होगा” सभी के लिए एक आकांक्षात्मक टैगलाइन बन गयी है। उनका ट्रांसफॉर्मेशन आज भी इंटरनेट पर सबसे प्रेरणादायक विषय है और हम सभी जानते हैं कि उन्होंने रील-लाइफ आनंद कुमार को कितने परफेक्शन के साथ स्क्रीन पर उतारा था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.